Home News National देश को बदनाम करने की साजिश

देश को बदनाम करने की साजिश

12916
0
SHARE
uknews-bjp on evm hackers

नई दिल्ली: एक अमेरिकी कथित साइबर एक्सपर्ट द्वारा इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में गड़बड़ी के दावे को सिरे से खारिज करते हुए बीजेपी ने कांग्रेस पर करारा वार किया है। बीजेपी ने आरोप लगाया कि लंदन में आयोजित हैकथॉन को कांग्रेस समर्पित लोगों ने आयोजित किया था और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल उसकी मॉनिटरिंग के लिए वहां गए थे।

बीजेपी ने आरोप लगाया कि यह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की खुराफात है। बीजेपी ने इसे कैम्ब्रिज एनालिटिका पार्ट-2 बताया। पार्टी ने इसे देश को बदनाम करने की साजिश करार दिया। बता दें कि एक अमेरिकी एक्सपर्ट सैयद सुजा ने सोमवार को दावा किया था कि 2014 के आम चुनाव में ईवीएम में गड़बड़ी की गई थी।

कांग्रेस पर सिलसिलेवार हमला

बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में आज कांग्रेस पर सिलसिलेवार निशाना साधा। उन्होंने आरोप लगाया कि इस कार्यक्रम को आयोजित करने वाले आशीष रे एक समर्पित कांग्रेसी हैं। उन्होंने कहा, ‘पूरा आयोजन कांग्रेस द्वारा प्रायोजित था। इसका आयोजन कांग्रेस के करीबी और उनके लिए प्रचार करने वाले लोगों ने किया था।’

राहुल करा रहे हैं खुराफात: प्रसाद

प्रसाद ने आरोप लगाया कि राहुल चुनाव हारने की वजह के लिए यह खुराफात करवा रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘ 2019 के चुनाव में कांग्रेस हारने का बहाना अभी से ढूंढ रही है। राहुल जी होमवर्क नहीं करते है और उनकी पूरी टीम भी होमवर्क नहीं करती है यह भी अब पता चल गया है। राहुल चुनाव हारने के लिए क्या-क्या खुराफात करेंगे।’

कहावत से बोला कपिल सिब्बल पर हमला

प्रसाद ने एक स्थानीय कहावत कहते हुए कांग्रेस नेता सिब्बल की लंदन में मौजूदगी पर सवाल पूछा। उन्होंने कहा, ‘वहां सिब्बल क्या कर रहे थे, बीजेपी यह सवाल पूछना चाहती है। किस हैसियत से सिब्बल वहां थे। सिब्बल पूरे मामले की कांग्रेस की तरफ मॉनिटरिंग करने गए थे। वह ऐसा करते रहते हैं। राम जन्मभूमि पर क्या-क्या किया, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के खिलाफ महाभियोग लाने की कोशिश की बाद में अलग हो गए।’

सैयद सुजा पर उठाए सवाल

बीजेपी ने कहा कि हैकथॉन में बताया गया कि सुजा बड़े हैकर हैं। अचानक वह कहां से प्रकट हो गए। कहा गया था कि ईवीएम को हैक करते हुए दिखाया जाएगा लेकिन वह अमेरिका से प्रकट होते हैं। चेहरा ढंके रहते हैं। उन्होंने वहां केवल बकवास किया। उन्होंने कहा कि सुजा ने गोपीनाथ मुंडे की मौत पर सवाल उठाए। प्रसाद ने कहा, ‘एम्स के डॉक्टर ने मुंडे का पोस्टमॉर्टम किया था और बताया था कि उनकी गर्दन में चोट लगने से मौत हुई। सुजा ने केवल बकवास किया।’ उन्होंने कहा कि सुजा ने अपने दावे में कोई सबूत पेश नहीं किए। उसने बिना किसी सबूत के ही आरोप लगाए।

जहां कांग्रेस जीती वहां ईवीएम ठीक, जहां बीजेपी जीती वहां खराब

बीजेपी ने कहा कि जहां-जहां कांग्रेस जीती या फिर अन्य विपक्षी दल वहां ईवीएम ठीक थी लेकिन जहां बीजेपी जीती वहीं खराब थी। राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस जीती तो वहां ईवीएम ठीक थी। प्रसाद ने कहा कि ये अजीब तर्क है। उन्होंने कहा, ‘लगभग 20 साल हो गए ईवीएम को देश में लागू हुए। इस दौरान 10 साल यूपीए सत्ता में रही, 2007 में मायावती यूपी में जीती, 2012 में अखिलेश यादव जीते, ममता बनर्जी बंगाल में दो-दो विधानसभा चुनाव जीतीं, लोकसभा में ममता को जीत मिली।

जब उनको जीत मिली तो ईवीएम ठीक था। लेकिन उनके पक्ष में जहां परिणाम नहीं आया वहां ईवीएम खराब होने का बहाना बनाया जा रहा है। कहा गया कि 2014 में हैकिंग से मोदी जीते, 2014 में यूपीए सत्ता में थी, हम नहीं थे। सत्ता में जब एनडीए थी ही नहीं तो फिर हमारी हैसियत क्या थी कि हम हैकिंग कर लेते। यह सब देश को बदनाम करने के लिए कांग्रेस प्रायोजित साजिश है। यह देश के 90 करोड़ मतदाताओं का अपमान है।’

कांग्रेस हार का बहाना ढूंढ रही है

प्रसाद ने आरोप लगाया कि जो पार्टी देश में 58 साल राज कर चुकी है वह चुनाव आयोग पर इस तरह के शर्मनाक हमले करवा रही है। उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस हारने का अभी से बहाना ढूंढ रही है। 2017 में जब ईवीएम पर सवाल उठा था तो चुनाव आयोग ने ईवीएम हैकिंग का चैलेंज दिया था।

कोई नहीं गया वहां, कांग्रेस भी नहीं गई, सीपीएम गई पर कुछ बोलकर निकल गई। जिस सैयद सुजा ने हैकिंग का दावा किया वह भी वहां नहीं आया। दरअसल, कांग्रेस देश की संस्थाओं चुनाव आयोग, सीवीसी और चीफ जस्टिस पर हमला करती रही है।’