Home Uttarakhand Garhwal नयार नदी बनी छात्राओं की काल, दो बही, एक का शव मिला

नयार नदी बनी छात्राओं की काल, दो बही, एक का शव मिला

लकड़ी के पुल से कर रही थी नदी पार

3258
0
SHARE
Nayar river

बिरोंखाल(पौड़ी) : कल शुक्रवार की सुबह बीरोंखाल प्रखंड के जिंवई उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की दो छात्राएं स्कूल जाते समय पूर्वी नयार नदी में बह गयी। हादसे में कुमारी नेहा (15) पुत्री शिशुपाल निवासी का शव बरामद कर लिया गया है जबकि इसी गांव की अम्बिका (17) पुत्री सुरेश की तलाश जारी है।घटनाक्रम के अनुसार रोजाना की तरह नेहा, अम्बिका व एक अन्य छात्रा स्कूल जा रहीं थीं।

बड़े पुल से स्कूल की दूरी ज्यादा होने के कारण ये छात्राएं पूर्वी नयार नदी पर ग्रामीणों द्वारा बनाये गये लकड़ी के पुल से स्कूल जा रही थीं। तीनों छात्राओं ने एक-दूसरे का हाथ पकड़ा हुआ था। सबसे आगे नेहा थी और बीच में कक्षा छह में पढ़ने वाली एक छात्रा थी और तब अम्बिका थी।

नेहा व अम्बिका पूर्वी नयार नदी में बह गयी

अचानक एक छात्रा का पांव फिसल गया और वे तीनों के तीनों नदी में बह गयी, तब तक कक्षा छह में पढ़ने वाली छात्रा जिसका नाम पता नहीं चल पाया है अचानक नदी से छिटक गयी और सुरक्षित निकल गयी। वहीं नेहा व अम्बिका पूर्वी नयार नदी में बह गयी।

सूचना मिलते ही क्षेत्र के लोगों ने राहत व बचाव कार्य शुरू किया। क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ता रोशन बिष्ट ने जानकारी दी कि गिवाड़ के प्रधान ओमपाल बिष्ट, विनोद नेगी व अन्य लोगों के साथ वे रेस्क्यू में जुट गये और आधे घंटे के बाद थलीसैंण से थानाध्यक्ष पुलिस बल व आपदा राहत उपकरणों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे।

इस दौरान राजस्व विभाग की टीम, पीआरडी का दल नेहा व अम्बिका की खोज में नदी में रेस्क्यू आपरेशन चलाता रहा। काफी आगे जाकर नेहा को निकाला गया और नेहा को प्राथमिक स्वास्य केन्द्र बीरोंखाल भेज दिया गया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं अम्बिका की अभी भी तलाश जारी है। समाचार लिखे जाने तक अम्बिका का कोई पता नहीं चल पाया है। घटना से क्षेत्र में मातम पसर गया है।