Home News National ‘नमो-नमो’ जाएंगे, ‘जय भीम’ आएंगे

‘नमो-नमो’ जाएंगे, ‘जय भीम’ आएंगे

36
0
SHARE
uknews-mayawati lashes out at bjp

बदायूं में बरसीं मायावती

बदायूं : उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी, समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल के गठबंधन ने शनिवार को अपनी दूसरी संयुक्त रैली बदायूं में की। इस दौरान बोलते हुए बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने खुले तौर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर तीखा हमला किया। उन्होंने सीएम को उनके ‘अली-बजरंगबली’ वाले बयान पर जमकर घेरा और कहा कि गठबंधन के साथ अली और बजरंगबली दोनों हैं और दोनों की मदद से गठबंधन को जीत हासिल होगी।

‘नमो-नमो जाएंगे, जय भीम आएंगे’

माया ने बदायूं की रैली में कहा कि भीड़ को देखकर लग रहा है कि नमो-नमो वाले जा रहे हैं, जय भीम वाले आ रहे हैं। उन्होंने सीएम पर हमला बोलते हुए कहा, ‘यूपी के मुख्यमंत्री योगी को इस बात का जवाब जरूर देना चाहूंगी, जो इन्होंने गठबंधन के बारे में इशारा करते हुए कहा है कि इनके अली, हमारे बजरंगबली, मैं इनको कहना चाहती हूं कि हमारे अली भी हैं, बजरंगबली भी हैं। दोनों में से कोई गैर नहीं हैं, दोनों हमारे अपने।’

‘हमारी ही दलित जाति के हैं बजरंगबली’

उन्होंने योगी आदित्यनाथ के उस बयान पर भी तंज कसा था जिसमें उन्होंने बजरंगबली को दलित बताया था। उन्होंने कहा, ‘हमें बजरंगबली की ज्यादा जरूरत इसलए भी है क्योंकि बजरंगबली अपनी ही जाति के हैं, दलित हैं। योगी ने ही उनकी जाति की खोज की है कि बजरंगबली वनवासी दलित जाति के हैं। मैं योगी की आभारी हूं कि हमारे वंशज के बारे में खास जानकारी दी है। हमारे लिए खुशी की बात यह है कि हमारे साथ अली भी हैं और बजरंगबली भी हैं।’ उन्होंने कहा कि योगी की पार्टी को न अली का वोट पड़ेगा, न बजरंगबली का।

सीएम योगी के बयान से विवाद

बता दें कि योगी आदित्‍यनाथ ने कहा था, ‘अगर कांग्रेस, एसपी, बीएसपी को अली पर विश्वास है तो हमें भी बजरंग बली पर विश्वास है।’ सीएम योगी ने देवबंद में बीएसपी सुप्रीमो के उस भाषण की तरफ इशारा करते हुए यह टिप्पणी की थी जिसमें मायावती ने मुस्लिमों से एसपी-बीएसपी गठबंधन को वोट देने की अपील की थी। योगी के इस बयान के बाद चुनाव आयोग ने उन्‍हें नोटिस भेजा था और शुक्रवार शाम तक जवाब देने को कहा था।