Home Uttarakhand Garhwal अगस्त्यमुनि में बवाल के बाद धारा 144 लागू

अगस्त्यमुनि में बवाल के बाद धारा 144 लागू

22
0
SHARE
uknews-section 144 applicable in Augustmuni
प्रशासन ने पूरे रुद्रप्रयाग तहसील क्षेत्र में धारा-144 लागू कर दी गयी है।
अगस्त्यमुनि। सोशल मीडिया में आपत्तिजनक पोस्ट पर अगस्त्यमुनि में मचे बवाल के बाद स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। प्रशासन ने पूरे रुद्रप्रयाग तहसील क्षेत्र में धारा-144 लागू कर दी गयी है। पुलिस शनिवार को अगस्त्यमुनि समेत प्रमुख कस्बों में फ्लैग मार्च किया। लेागों से अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की।

पुलिस ने किया फ्लैग मार्च

डीएम मंगेश घिल्डियाल और एसपी पीएन मीणा पूरे घटनाक्रम पर नजर बनाए हुए हैं। पौड़ी, चमोली और टिहरी जिले के अतिरिक्त पुलिस फोर्स रुद्रप्रयाग बुलाई गई है। पूरा अगस्त्यमुनि बाजार छावनी में तब्दील हो गया है। पुलिस के जवानों की कदमताल से लोग भी सहमे नजर आ रहे हैं।

फेक न्यूज वायरल हो गयी

बीते गुरुवार शाम को सोशल मीडिया पर किसी व्यक्ति ने अगस्त्यमुनि को लेकर एक आपत्तिजनक पोस्ट डाल दी थी। यह फेक न्यूज वायरल हो गयी। देखते ही देखते कुछ छात्र और स्थानीय लोग थाने में जाकर पुलिस से आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे।
यह अफवाह फैलाई गई कि युवती से किसी दूसरे समुदाय के युवकों ने रेप किया है। जबकि पुलिस प्रशासन के अफसरों का कहना है कि ऐसी कोई घटना ही नहीं हुई है। ये फेक खबर वायरल हो गई और शुक्रवार सुबह तक मामला आग की तरह फैल गया।

मुख्यालय सहित अनेक स्थानों पर सुरक्षा बढ़ा दी

शुक्रवार सुबह गंगानगर, विजयगनर और अगस्त्यमुनि में अराजकतत्वों समुदाय विशेष की दुकानों पर जमकर तोड़फोड़ की। करीब 15 दुकानों में तोड़फोड़ की गई। कई कई जगह दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया। बाइक भी फूंकी गई।
डीएम मंगेश घिल्डियाल ने घटना के बाद तनाव न फैले इसको देखते हुए शीघ्र सोशल मीडिया पर बयान जारी किया।
उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया में रेप की गलत खबर को चलाया गया, जिससे अगस्त्यमुनि में ऐसी स्थिति हुई। यह महज अफवाह है इस पर किसी तरह की सत्यता नहीं है। अगस्त्यमुनि की घटना के बाद पुलिस ने मुख्यालय सहित अनेक स्थानों पर सुरक्षा बढ़ा दी है। किसी भी तरह इस मामले को आगे नहीं बढ़ने दिया जा रहा है।

बड़ी संख्या में पुलिस के जवान तैनात

शनिवार को अगस्त्यमुनि के साथ ही रुद्रप्रयाग, गुप्तकाशी और ऊखीमठ में बड़ी संख्या में पुलिस के जवान तैनात हैं। अगस्त्यमुनि, गुप्तकाशी, ऊखीमठ, रुद्रप्रयाग आदि स्थानों पर पुलिस ने गश्त कर रही है। पुलिस फ्लैग मार्च निकाल रही है और लोगों को अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की बात कह रही है।
यह संदेश दिया गया कि कानून व्यवस्था को बिगाड़ने का प्रयास करने वाले के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस आगजनी और तोड़फोड़ की घटना की पुनरावृत्ति न हो, इसे लेकर सतर्क है।