Home Uttarakhand Garhwal मोटरमार्ग पर बह रहा बरसाती गदेरा

मोटरमार्ग पर बह रहा बरसाती गदेरा

43
0
SHARE
uknews-Barasati Gadeera flowing over the Chhinagad-Buxar motorway
छेनागाड़-बक्सीर मोटरमार्ग पर बह रहा बरसाती गदेरा।
रुद्रप्रयाग। जखोली विकासखण्ड के अति दूरस्थ क्षेत्र पूर्वी बांगर की जनता को मानसून सीजन में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। क्षेत्र के पांच से अधिक गांवों का संपर्क इन दिनों ब्लाॅक एवं जिला मुख्यालय से कटा हुआ है। इसके साथ ही क्षेत्र में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति नहीं हो पा रही है और जनता को मीलों पैदल चलकर रोजमर्रा की सामग्री ढोनी पड़ रही है।

पूर्वी बांगर क्षेत्र की जनता की मानसून सीजन में बढ़ी दिक्कतें

विकास की मुख्य धारा से अछूते पूर्वी बांगर की क्षेत्र की जनता को बरसात के सीजन में मुसीबतों से जूझना पड़ रहा है। पिछले पन्द्रह दिनों से ग्रामीण मुश्किलों से भरा जीवन यापन कर रहे हैं। क्षेत्र के गांवों को जोड़ने वाला छेनागाड़-बक्सीर मोटरमार्ग भटकंडी में बंद पड़ा हुआ है। यहां पर बरसाती गदेरा उफान पर आया हुआ है। जिस कारण वाहन आर-पार नहीं जा पा रहे हैं और क्षेत्र की जनता को पैदल आवाजाही करके रोजमर्रा की सामग्री ले जानी पड़ रही है।

वाहनों की आवाजाही प्रभावित

भटकंडी में आज तक मोटरपुल का निर्माण नहीं हो पाया है, जिस कारण हर बरसाती सीजन में यही हाल हो जाते हैं। बरसात में गदेरा उफान पर आने से गदेरे का पानी मोटरमार्ग पर बहने लगता है और वाहनों की आवाजाही प्रभावित हो जाती है। यहां पर निर्माणाधीन पुल का कार्य पिछले दो वर्षों से बंद पड़ा हुआ है और पुल निर्माण के नाम पर मात्र पिल्लर ही खड़े हो पाये हैं। पूर्वी बांगर क्षेत्र के सबसे दूरस्थ गांव भैंडारू के ग्रामीणों की मुसीबतें अत्यधिक बढ़ गई हैं।

ग्रामीणों का किसी से कोई संपर्क नहीं

यहां के ग्रामीणों का किसी से कोई संपर्क नहीं है। गांव में पिछले एक महीने से वाहन नहीं जा पा रहे हैं। क्षेत्र में सबसे अधिक दिक्कतें बीमार लोगों को झेलनी पड़ रही हैं। वाहन सुविधा बंद होने के कारण मरीजों को चिकित्सालय पहुंचाने में भारी परेशानियां सामने करना पड़ रहा है। क्षेत्र के बक्सीर, भुनाल गांव, मथगांव, डांगी आदि के भी यही हाल हैं। ग्राम प्रधान डांगी नवीन सेमवाल ने बताया कि बरसाती सीजन में क्षेत्र के ग्रामीणों की दिक्कतें बढ़ गई हैं। भटकंडी में गदेरा मोटरमार्ग पर बहने से वाहनों की आवाजाही भी प्रभावित है। उन्होंने लोनिवि से इस स्थान पर शीघ्र पुल निर्माण करने मी मांग की है।