Home Uttarakhand Kumaun राज्य वित्त व पंचायत निधि पर सवाल

राज्य वित्त व पंचायत निधि पर सवाल

उपेक्षा का आरोप

121
0
SHARE
uknews-complain
राज्य वित्त व पंचायत निधि पर सवाल

रानीखेत : ब्लॉक मुख्यालय में राज्य वित्त एवं क्षेत्र पंचायत निधि के कार्यो में भेदभाव का आरोप लगाते हुए कुछ बीडीसी सदस्यों ने कड़ी आपत्ति जताई है। आरोप है कि उन्हें विश्वास में लिए बगैर प्रस्ताव पास करा दिए गए। इधर बीडीओ ने कहा कि इसी सिलसिले में 28 मार्च को सदन बैठेगा। इसमें दोबारा प्रस्ताव पटल पर रख अनुमोदन कराया जाएगा।

उपेक्षा का आरोप

राज्य वित्त एवं पंचायत निधि के मसले पर बीडीसी तारा सिंह बिष्ट व नरेंद्र सिंह आदि ने उपेक्षा का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2015-16 व 2016-17 की कार्य योजना में विकासखंड के 33 क्षेत्रों को ही शामिल किया गया है। जबकि शेष सात को वंचित रखा गया है। उन्होंने इन कार्यो पर रोक लगा दोबारा प्रस्ताव पास कराए जाने पर जोर दिया है।

आरोप निराधार

डीएम, सीडीओ, ब्लॉक प्रमुख आदि को पत्र भी भेजा है। उधर बीडीओ ने कहा कि 28 मार्च को प्रमुख ने बीडीसी सदस्यों की बैठक बुलाई है। उसमें शिकायतों का निस्तारण कर लिया जाएगा। उधर कनिष्ठ प्रमुख अंबादत्त पंत ने आरोपों को निराधार बताते हुए कहा कि ब्लॉक में किसी भी सदस्य की उपेक्षा नहीं की जा रही है। सदन में अनुमोदन के बाद ही प्रस्ताव पारित किए जाते हैं।

LEAVE A REPLY