Home News International पीएम मोदी ने प्रिंस चार्ल्स के साथ साइंस म्यूजियम का किया दौरा

पीएम मोदी ने प्रिंस चार्ल्स के साथ साइंस म्यूजियम का किया दौरा

45
0
SHARE
uknews-charles-prince-modi

लंदन: कॉमनवेल्थ देशों के राष्ट्राध्यक्षों की मीटिंग में शामिल होने के लिए ब्रिटेन गए पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार को ब्रिटिश पीएम टरीजा मे और प्रिंस चार्ल्स से मुलाकात की। पीएम मोदी ने प्रिंस चार्ल्स के साथ साइंस म्यूजियम का दौरा किया। यहां उन्होंने भारत पर लगी एक्सिबिशन इलूमनेटिंग इंडिया: साइंस और इनोवेशन के 5000 साल को भी देखा।

जानें, भारत के बारे में इस एक्सिबिशन में क्या है खास:-

– इस एक्सिबिशन में भारत के पुरातन शहरों से लेकर स्पेस अभियान और गणित तक के बारे में बताया गया है। इस एक्सिबिशन में भारत के उन आविष्कारों को जगह दी गई है, जिन्होंने दुनिया को बदलने में अहम भूमिका निभाई है।

– यह एक्सिबिशन 4 अक्टूबर, 2017 से शुरू हुई थी और 22 अप्रैल, 2018 तक चलेगी।

– 16वीं सदी में मुगल शासकों की ओर से प्रकृति के संरक्षण के लिए उठाए गए कदमों की यहां जानकारी दी गई है। इसके अलावा 20वीं सदी के महान भारतीय गणितज्ञ श्रीनिवास रामानुजन के बारे में भी यहां जानकारी दी गई है।

– इसरो के अभियानों के बारे में भी यहां जानकारी दी गई है। खासतौर पर मंगल पर कैमरा भेजे जाने का इसमें जिक्र किया गया है। दिलचस्प यह है कि भारत का यह मंगल मिशन ग्रैविटी फिल्म के बजट से भी सस्ता था।

– हिमालय पर्वत की चोटी एवरेस्ट को दुनिया के सबसे ऊंचे पहाड़ का पर्यायवाची माना जाता है। इसका नाम भारत में 1830 से 1843 के दौरान भारत में सर्वे करने वाले जॉर्ज एवरेस्ट के नाम पर रखा गया है।

– इसरो की ओर से 1990 की शुरुआत में ऑर्बिट में अपने सैटलाइट्स को लॉन्च करने के लिए पीएसएलवी को तैयार किया गया था। भारत ने 2017 में ब्रिटेन, अमेरिका और कनाडा के सैटलाइट्स भी लॉन्च किए थे। इसके बारे में भी इस एक्सिबिशन में रोचक तरीके से जानकारी दी गई है।

– यहां एक अंडाकार भूगोला या अर्थबॉक्स रखा गया है। यह उस हिंदू मान्यता को दर्शाता है, जिसमें यूनिवर्स को अंडे के आकार का कहा गया है। इसके अलावा ग्रीक मान्यताओं में भी धरती के बारे में ऐसी ही कल्पना है।

– भारत के बड़े हिस्से में 1569 से 1627 तक शासन करने वाले मुगल बादशाह जहांगीर के दौर के सिक्कों को भी यहां प्रदर्शित किया गया है।