Home Uttarakhand Garhwal जनता विकास से कोसों दूर, लोकायुक्त को लेकर नहीं की कोई पहल

जनता विकास से कोसों दूर, लोकायुक्त को लेकर नहीं की कोई पहल

33
0
SHARE
uknew_Workers presenting aap state President Naveen Pirirati
आप के प्रदेश अध्यक्ष नवीन पिरशाली से भेंट करते कार्यकर्ता।

चहेतों का भला करने में लगी है सरकारः पिरशाली

रुद्रप्रयाग। लोकायुक्त को लेकर भाजपा सरकार ने जनता को ठगने का काम किया है। सुगम-दुर्गम की नीति भी आज तक नहीं बन पाई है। अपनी हार को देख निकाय चुनावों को ही आगे खिसका दिया। जनता के विकास से इन्हें कोई लेना-देना नहीं है। सरकार और संगठन आपसी खिंचतान में लगा है। अपने चहेतों का भला किया जा रहा है और आम जनता को विकास से कोसों दूर रखा गया है। आगामी चुनावों में जनता भाजपा को अच्छा सबक सिखायेगी।

आम आदमी पार्टी की बैठक, प्रदेश अध्यक्ष ने किया कार्यकर्ताओं को संबोधित

मुख्यालय में आयोजित आम आदमी पार्टी की बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष नवीन पिरशाली ने कहा कि प्रदेश में जब से भाजपा की सरकार आयी है, तब से लेकर आज तक जनता परेशान ही है। किसी भी स्तर से जनता का विकास नहीं किया जा रहा है। भाजपा और संगठन आपसी खींचतान में लगे हुए हैं। प्रदेश के भीतर एक मंत्री के इशारे पर सरकार चल रही है, जिससे अन्य मंत्री एवं विधायक सरकार से खैर खाये हुए हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान जनता से किये गये एक भी वायदों पर अमल नहीं हो पाया है।

सुगम-दुर्गम की नहीं बनी नीति

सरकार को एक साल से ज्यादा का समय हो चुका है और लोकायुक्त एवं  सुगम-दुर्गम की कोई नीति नहीं बन पाई है। मुख्यमंत्री का आम जनता के साथ दुव्यवहार देखने को मिल रहा है। यह कैसी सरकार है, जिसे आम जनता से कोई लेना-देना ही नहीं है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने लोकपाल विधेयक पास नहीं करवाया है और अपनी हार की डर से निकाय चुनावों को भी आगे बढ़ाया गया है। कहा कि आगामी माह में होने वाले निकाय चुनावों में भाजपा को मुंह की खानी पड़ेगी।

हार के डर से आगे खिसकाये निकाय चुनाव

जनता भाजपा सरकार से खिन्न खा रही है। जिस विश्वास के साथ जनता ने भाजपा का साथ दिया, आज उस दिन के लिए उन्हें पछताना पड़ रहा है। आप नेता प्यार सिंह नेगी ने कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार आते ही, विकास का पहिया थम गया है। आपदाग्रस्त जनपदों में पैंसा नहीं आ रहा है, जिससे अधिकारी खासे परेशान है। पांच साल से केदारघाटी के विजयनगर में स्थाई पुलिया का निर्माण नहीं किया गया है।
धनराशि के अभाव में पुल का कार्य रूका पड़ा है। उन्होंने कहा कि राज्य निर्माण से पूर्व गैरसैंण राजधानी के रूप में प्रस्तावित था, लेकिन भाजपा-कांग्रेस दोनों ही पार्टियों ने राजनैतिक नफा नुकसान के लिए राजधानी के मामले को लटकाये रखा है। जिससे प्रदेश का विकास पूरी तरह से ठप पड़ गया है।
इस अवसर पर कार्यकारिणी का विस्तार करते हुए कैलाश जोशी को जिला संयोजक एवं कांता प्रसाद ढौंडियाल को प्रदेश कार्य समिति का सदस्य नामित किया गया। नव निर्वाचित जिला संयोजक कैलाश जोशी ने कहा कि जिले के सभी कार्यकर्ताओं की बैठक जल्दी ही आहूत कर आगे की रणनीति तय की जायेगी। इस मौके पर सचिव पुरूषोत्तम चन्द्रवाल, कोषाध्यक्ष नरेन्द्र बिष्ट, बुद्धि बल्लभ ममगांई, प्यार सिंह नेगी, नरेन्द्र बिष्ट, वीरपाल नेगी, राजेन्द्र बिष्ट सहित कई मौजूद थे।