Home Sports विराट कोहली नहीं खेल पाएंगे काउंटी क्रिकेट 

विराट कोहली नहीं खेल पाएंगे काउंटी क्रिकेट 

20
0
SHARE
uknews-virat kohli injured

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली गर्दन में चोट के कारण इंग्लिश काउंटी क्रिकेट नहीं खेल पाएंगे। बीसीसीआई ने गुरुवार को उनके काउंटी क्रिकेट से बाहर होने की घोषणा की। बीसीसीआई ने कहा कि चोट से उबरने के लिए कोहली को 3 हफ्ते के रीहबिलिटेशन की जरूरत होगी। कोहली का फिटनेस परीक्षण 15 जून को होगा उसके बाद ही ब्रिटेन दौरे के शुरुआती चरण में उनके मौजूद होने की पुष्टि हो पाएगी।

बीसीसीआई ने की काउंटी क्रिकेट से बाहर होने की घोषणा

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने बयान जारी कर बताया है कि कोहली इंग्लैंड और आयरलैंड दौरे से ठीक पहले काउंटी क्रिक्रेट में हिस्सा नहीं ले पाएंगे। दरअसल, कोहली बुधवार को जांच के लिए मुंबई के एक अस्पताल गए थे जिसके बाद खबरें आई थीं कि उन्हें स्लिप डिस्क हो गया है और वह इंग्लैंड दौरे से पहले सरे के लिए काउंटी क्रिकेट नहीं खेल सकेंगे। बाद में बोर्ड के एक अधिकारी ने साफ किया कि विराट को स्लिप डिस्क नहीं है। यह मामला नेक स्प्रेन (गर्दन में मोच) का है।

कोहली पर बीसीसीआई की मेडिकल टीम रखेगी नजर

बोर्ड की ओर से कहा गया कि विराट के काउंटी क्रिकेट नहीं खेलने का फैसला मेडिकल टीम द्वारा चेकअप के बाद किया गया। टीम इंडिया के कप्तान को बीसीसीआई मेडिकल टीम की देखरेख में अब रीहबिलिटेशन से गुजरना होगा। उन पर बीसीसीआई की मेडिकल टीम नजर रखेगी। कोहली जल्द ही प्रशिक्षण शुरू करेंगे और 15 जून को बेंगलुरु के एनसीए में उनका फिटनेस टेस्ट होगा। मेडिकल टीम को उम्मीद है कि वह आयरलैंड और इंग्लैंड दौरे से पहले फिट हो जाएंगे।

कब लगी चोट?

बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने एक बयान में बताया, ‘सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ बेंगलुरु के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में 17 मई 2018 को हुए आईपीएल के 51वें मैच के दौरान विराट कोहली को गर्दन में चोट लगी थी।’ बताया गया है कि उसके बाद दर्द कम हो गया था, लेकिन वह एहतियात के तौर पर चेकअप के लिए गए थे।

थकान को कम करने कोशिश

इससे पहले क्रिकेट बोर्ड के एक अधिकारी ने कहा था कि हां, विराट के साथ थकान का मसला है, लेकिन यह वर्क मैनेजमेंट की बात है। उन्हें स्लिप डिस्क नहीं है। फिलहाल हम लोग उनके वर्कलोड की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। अधिकारी ने कहा- हम एक योजना तैयार कर रहे हैं, जिससे उनके काउंटी कार्यकाल को कम किया जा सके।

 

कैसी है फिटनेस?

दूसरी ओर, भारतीय कप्तान के फिटनेस के सवाल पर एक अधिकारी ने कहा कि विराट ने बुधवार को ‘फिटनेस चैलेंज’ का विडियो शेयर किया था। मैं आपको बता सकता हूं कि यह बुधवार को ही शूट किया गया था। आपको बता दें कि केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने टि्वटर पर फिटनेस चैलेंज मुहिम शुरू की है। राठौड़ ने इसमें कप्तान विराट कोहली को भी चैलेंज किया था। कोहली ने यह चैलेंज स्वीकार किया और इसे पूरा करते हुए तीन अन्य लोगों को इसमें टैग किया।

बता दें कि विराट कोहली ने अफगानिस्तान टेस्ट की जगह काउंटी क्रिकेट को अहमियत दी थी, जिससे कि इंग्लैंड दौरे के लिए उन्हें मदद मिल सके। 2014 में उन्हें इंग्लैंड दौरे पर जेम्स एंडरसन की गेंदों के सामने जूझना पड़ा था। वह 5 टेस्ट मैचों में 13.4 की औसत से सिर्फ 134 रन बना सके थे।

लगातार क्रिकेट हो सकती है चोट की वजह

– जून, 2017 से मई, 2018 तक 9 टेस्ट खेले
– पिछले 12 महीनों में 29 वनडे और 9 टी-20 का रहे हिस्सा
– भारतीय टीम ने पिछले एक साल में 59 इंटरनैशनल मैच खेले। इसमें 47 में विराट शामिल रहे।
– उनसे अधिक सिर्फ रोहित और हार्दिक पंड्या (48-48 मैच) ने खेले हैं।