Home News National शर्म से झुका सिर, टूट गया दिल: महबूबा मुफ्ती

शर्म से झुका सिर, टूट गया दिल: महबूबा मुफ्ती

41
0
SHARE
uknews-cm mehbooba gave her condolence to the family
थिरूमनी के पिता राजबलि को ढांढस बंधातीं महबूबा मुफ्ती

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर के नारबल इलाके में पत्थरबाजी के चलते एक पर्यटक की मौत की घटना के मामले में महबूबा सरकार चौतरफा घिरती नजर आ रही है। सभी राजनीतिक दलों ने एक स्वर से इस घटना की निंदा करते हुए इसे कश्मीर की मेहमाननवाजी पर धब्बा करार दिया है।

इस मामले में अब तक कोई कार्रवाई न होने को लेकर भी पीडीपी-बीजेपी की सरकार विपक्षी दलों के निशाने पर है। बता दें कि सोमवार शाम को श्रीनगल के बाहरी इलाके नारबल में पत्थरबाजी की घटना में चेन्नै से आए टूरिस्ट थिरूमन बुरी तरह घायल हो गए थे और अस्पताल में उन्होंने दम तोड़ दिया था।

 

22 साल के तमिलनाडु के थिरूमनी की दुखद मौत के बाद खुद सीएम महबूबा मुफ्ती ने अस्पताल में जाकर उनके पिता राजबलि से मुलाकात की और कहा कि मुझे आपके लिए दुख है। हम इस घटना के दोषियों को माफ नहीं करेंगे। महबूबा मुफ्ती ने इस घटना को लेकर कहा, ‘मेरा सिर शर्म से झुक गया है। यह बहुत दुखद है और दिल तोड़ने वाला है।’

अब्दुल्ला बोले, मेहमानों के साथ ऐसा सलूक शर्म की बात

नैशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने बीजेपी-पीडीपी गठबंधन पर सवाल उठाए हैं। अब्दुल्ला का कहना है कि आखिर राज्य सरकार हत्यारों को बचाने का प्रयास क्यों कर रही है। इसकी जितना निंदा की जाए, वह कम है। हम अपनी मेहमाननवाजी के लिए दुनिया भर में जाने जाते हैं और हमने अपने मेहमानों के साथ जैसा सलूक किया और चेन्नै से एक मेहमान इसमें मारे गए, इससे ज्यादा शर्म की बात नहीं हो सकती।

‘घाटी में पत्थर बरसेंगे तो कोई पर्यटक यहां क्यों आएगा’

इस बीच नैशनल पैंथर्स पार्टी के मुखिया भीम सिंह ने कहा कि सरकार पूरी तरह से फेल हो गई है। जिस दिन जनता सरकार को बदल देगी, सूबे में पत्थर बरसने बंद हो जाएंगे। कश्मीर से विधायक इंजिनियर राशिद ने कहा कि यह घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। शोपियां में सिर्फ 1 दिन में 11 कश्मीरियों ने अपनी जवान गईं। यदि घाटी में पत्थरबाजी का लोग निशाना बनेंगे तो फिर कोई यहां क्यों आएगा।

महबूबा से बोले थिरूमनी के पिता, उसका बहुत खून बह चुका था

महबूबा मुफ्ती द्वारा मृतक थिरूमनी के पिता राजबलि को ढांढस बंधाने का एक विडियो सामने आया है। इस विडियो में थिरूमनी के पिता कहते हैं, ‘वह कल ही यहां आया था। वह गाड़ी में था और लोग पत्थर फेंक रहे थे। वह पत्थर उसके सिर पर लगा। उसके कान में लगा। उसका बहुत सारा खून बह चुका था।’ इस पर सीएम ने कहा, ‘आपको पहुंचे दुख के लिए मैं क्षमा चाहती हूं। यह घटना शर्मनाक है। अराजक तत्व कश्मीर को बदनाम करना चाहते हैं। हम दोषियों को छोड़ेंगे नहीं।’

निर्मला बोलीं, पत्थरबाजी में मौत बर्दाश्त नहीं

इस बीच डिफेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमन ने कहा है कि पत्थरबाजी में किसी पर्यटक की मौत को स्वीकार नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।