Home News National नेताओं की डिनर पार्टी का मामला पकड़ चुका तूल

नेताओं की डिनर पार्टी का मामला पकड़ चुका तूल

28
0
SHARE

नई दिल्ली- पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री और उच्चायुक्त के साथ पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह व अन्य कांग्रेस नेताओं की डिनर पार्टी का मामला तूल पकड़ चुका है। मनमोहन सिंह द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से माफी की मांग पर पलटवार करते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि यह काफी हैरान करने वाला है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने राष्ट्र नीति से अलग जाकर यह बैठक की और उन्हें देश को समझाना चाहिए कि इसकी क्या जरूरत थी। जेटली ने इस दौरान शर्म-अल-शेख का भी जिक्र किया।

अरुण जेटली का पलटवार

जेटली ने कहा, ‘दोनों देशों के डीजीएमओ की बैठकें होती हैं और हमारे कूटनीतिक रिश्ते भी हैं, लेकिन यह स्पष्ट राष्ट्र नीति है कि जब तक पाकिस्तान की धरती से आतंकवाद खत्म नहीं होगा, उच्च स्तर पर बातचीत नहीं होगी। हालांकि मणिशंकर अय्यर जैसे लोगों ने कभी इस राष्ट्र नीति को नहीं माना। वह कहते हैं कि आतंकवाद के साथ बातचीत भी जारी रहेगी। लेकिन पूर्व प्रधानमंत्री और वरिष्ठ नेताओं का अय्यर का न्योता स्वीकार करना और इस बैठक में शामिल होना गलती है।’

मोदी से माफी की मांग पर हैरानी

उन्होंने मोदी से माफी की मांग पर हैरानी जताते हुए कहा कि क्षमा तो उन्हें मांगनी चाहिए जिन्होंने राष्ट्रीय नीति का उल्लंघन किया है। कांग्रेस पार्टी को देश को समझाना चाहिए कि इस बैठक की जरूरत क्या थी। उन्होंने यह भी कहा पूर्व प्रधानमंत्री को किसी के साथ बैठक के लिए पूछने की जरूरत नहीं है, लेकिन क्या इस तरह की संवेदनशील बैठक की जानकारी विदेश मंत्रालय को नहीं दी जानी चाहिए?

गुजरात में हार को देखकर मोदी बौखला गए- मनमोहन सिंह

इससे पहले पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री और उच्चायुक्त के साथ डिनर मीटिंग को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा था कि गुजरात में हार को देखकर मोदी बौखला गए हैं और झूठ फैला रहे हैं। पूर्व पीएम ने बैठक के दौरान गुजरात पर चर्चा से साफ तौर पर इनकार किया है।

चर्चा भारत-पाकिस्तान रिश्तों तक थी सीमित

पीएम मोदी के आरोपों से खुद को दुखी बताते हुए पूर्व पीएम ने कहा, ‘मणिशंकर अय्यर के द्वारा आयोजित डिनर में मैंने किसी के साथ गुजरात चुनाव पर चर्चा नहीं की। यह मुद्दा किसी दूसरे के द्वारा भी नहीं उठाया गया। चर्चा भारत-पाकिस्तान रिश्तों तक सीमित थी।’ उन्होंने पीएम मोदी से माफी की मांग करते हुए उम्मीद जताई कि वह गंभीरता दिखाएंगे। मनमोहन सिंह ने बैठक में शामिल लोगों के नाम भी बताए हैं। इस सूची में कुल लोगों के नाम हैं।

कल इनकार, आज स्वीकार

कांग्रेस पार्टी ने सोमवार को यूटर्न लेते हुए स्वीकार किया कि पाकिस्तानी उच्चायुक्त और अन्य लोगों के साथ मणिशंकर अय्यर के घर बैठक हुई थी। पार्टी ने रविवार को ऐसी किसी मीटिंग की बात से इनकार किया था। 24 घंटों के भीतर अपनी बात से पलटते हुए कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने सोमवार को कहा कि अय्यर के घर पर डिनर मीटिंग हुई थी, लेकिन क्या अब इसके लिए भी सरकार और एजेंसियों से परमिशन लेनी होगी।

LEAVE A REPLY