Home News International युवा डिप्लोमैट एनम गंभीर ने उड़ाईं पाकिस्तान की धज्जियां

युवा डिप्लोमैट एनम गंभीर ने उड़ाईं पाकिस्तान की धज्जियां

291
0
SHARE
uknews-Eenam Gambhir

भारत का पलटवार, पाकिस्तान को बताया, ‘टेररिस्तान’

जिनीवा: यूएन में लगातार कश्मीर का राग अलाप रहे पाकिस्तान पर भारत ने जबरदस्त पलटवार किया है। राइट टु रिप्लाई के तहत दिए गए जवाब में भारत ने पाकिस्तान को ‘टेररिस्तान’ करार दिया।

बता दें कि इससे पहले पाकिस्तान के पीएम शाहिद अब्बासी ने यूनाइटेड नेशंस जनरल असेंबली में यूएन से कश्मीर में एक विशेष दूत तैनात करने की मांग की थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि कश्मीर में लोगों के संघर्ष को भारत द्वारा कुचला जा रहा है। अब्बासी ने भारत पर पाकिस्तान में आतंकी गतिविधियां चलाने का आरोप भी लगाया था।

राजनयिक एनम गंभीर ने संभाला मोर्चा

भारत की ओर से जवाब देने के लिए राजनयिक एनम गंभीर ने मोर्चा संभाला। उन्होंने कहा कि टेररिस्तान बन चुके पाकिस्तान में आतंकवाद का कारोबार फल-फूल रहा है और वैश्विक स्तर पर फैल रहा है। गंभीर ने कहा कि पाक (पवित्र) जमीन हासिल करने की चाहत में पाकिस्तान Land of pure terror बन गया है। अपने छोटे से इतिहास में पाकिस्तान आतंकवाद का पर्याय बन गया है।

हमला तेज करते हुए एनम ने कहा कि यह अद्भुत बात है कि जिस देश ने ओसामा बिन लादेन और मुल्ला उमर को शरण दी, वह खुद को पीड़ित के तौर पर पेश करने का साहस रखता है।

‘कश्मीर पर पाठ न पढ़ाए पाक’

कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान पर हमला करते हुए एनम ने कहा कि पड़ोसी मुल्क को समझा चाहिए कि जम्मू-कश्मीर राज्य हमेशा भारत का अभिन्न अंग रहेगा। पाकिस्तान भले ही सीमा पर से आतंकवाद को जितनी भी हवा दे, लेकिन उसकी भारत के क्षेत्रीय अखंडता को कमतर करने की कोशिश कामयाब नहीं होगी।

पाकिस्तान में आतंकवादी सड़क पर बेहिचक टहलते हैं

पाकिस्तानी जमीन पर पनप रहे आतंकवाद को लेकर एनम ने कहा, ‘जिस पाकिस्तान में आतंकवादी खुलेआम सड़क पर बेहिचक टहलते हैं, उस देश को हमने भारत में मानवाधिकारों की हिमायत करते सुना है।’

भारत को नाकाम देश से सीखने की जरूरत नहीं

भारत की ओर से एनम ने कहा, ‘दुनिया को लोकतंत्र और मानवाधिकारों पर ऐसे देश से सीखने की जरूरत नहीं, जिसके खुद के हालात की व्याख्या नाकाम देश (Failed State) के तौर पर होती है।’ एनम ने कहा कि दरअसल पाकिस्तान एक ऐसा ‘टेररिस्तान’ है, जिसका आतंकवाद के वैश्वीकरण में अतुलनीय योगदान है।

कौन हैं एनम गंभीर?

एनम ट्विटर पर खुद को एक इंडियन डिप्लोमैट और दिल्ली की रहने वाली बताती हैं। फेसबुक पर उन्होंने खुद को भारतीय विदेश मंत्रालय का कर्मचारी बताया है। उन्होंने यूनिवर्सिटी ऑफ जिनीवा से पढ़ाई की है और फिलहाल न्यू यॉर्क में रहती हैं। वह 2005 बैच की आईएफएस (इंडियन फॉरन सर्विसेज) ऑफिसर हैं। एनम गंभीर के बेबाक भाषणों की सोशल मीडिया में खूब तारीफ हुई है।

LEAVE A REPLY