Home National Uttarakhand आपदा के समय तत्काल राहत सहायता करेंः डीएम मंगेश

आपदा के समय तत्काल राहत सहायता करेंः डीएम मंगेश

17
0
SHARE
uknews-District Magistrate Mangesh Ghilliyal meeting for the monsoon
मानसून को लेकर बैठक लेते जिलाधिकारी मंगेश घिल्ड़ियाल।
रुद्रप्रयाग। जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल की अध्यक्षता में जिला कार्यालय सभागार में मानसून सत्र की तैयारियों को लेकर जिला आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण की बैठक आयोजित की गई।

मानसून सत्र को लेकर आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक

बैठक लेते हुए जिलाधिकारी ने जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी को विभाग द्वारा उपलब्ध कराए गये जेसीबी आॅपरेटर, आपदा के लिए टेनड वाल्युन्टीयर के नम्बर सत्यापित करने के निर्देश दिए, जिससे आपदा के समय किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत न हो।
इसके साथ ही जनपद के एक्स सर्विसमैन, तैराक, स्थानीय रिसोर्स पर्सन, टेनड गाइड के नम्बर भी प्रधानों के माध्यम से लेने के निर्देश दिए, जिससे किसी भी प्रकार की आपदा के समय उनकी मदद लेकर तत्काल राहत सहायता व बचाव किया जा सके।

उपकरणों की जांच व नियमित बैटरी की जाय चार्ज

जिलाधिकारी ने समस्त विभागों को मानसून अवधि में सार्वजनिक, विभागीय परिसम्पित्तियों की क्षति होने पर संबंधित स्थल की फोटो, वीडियोग्राफी करने, समस्त तहसीलदार, थानाध्यक्ष को आपदा प्रबन्धन विभाग द्वारा उपलब्ध कराये गए उपकरणों की जांच व नियमित बैटरी चार्ज की जाय।
जिला पूर्ति अधिकारी को मानसून अवधि से पूर्व जनपद एवं तहसील स्तर पर आवश्यक खाद्यान्न सामाग्री का भण्डारण करने के संबंध में व्यापार मण्डल प्रतिनिधियों से वार्ता कर रेट निर्धारित करने के निर्देश दिए। जनपद में किसी भी कारण से अवरूद्ध होने वाले मोटर मार्गो की मानिटरिंग के लिए डीडीएमओ को निर्देश दिए।
कहा कि रोड स्टेटस की स्थिति बदहाल होने पर सम्बन्धित अधिशासी अभियंता की एसीआर में दर्ज की जाएगी, इसलिए सभी समय से मोटरमार्ग को खुलवा दें। स्कूलों में ग्रीष्मकालीन अवकाश के कारण विद्यालय की चाबी संबंधित एसएमसी अध्यक्ष के पास रखवाने के निर्देश मुख्य शिक्षाधिकारी को दिए, जिससे किसी भी प्रकार की आपदा में स्कूलों को राहत सहायता केन्द्र बनाए जाने पर चाबी की समस्या न हो, क्योंकि अधिकांश शिक्षक जनपद से बाहर होंगे।
इस अवसर पर विधायक केदारनाथ मनोज रावत, जिला पंचायत अध्यक्ष लक्ष्मी राणा, सीडीओ डी आर जोशी, एडीएम गिरिश गुणवन्त, एसडीएम सदर देवानंद,जखोली देवमूर्ति यादव, गोपाल सिंह चैहान, डीडीएमओ हरीश चन्द्र, एसीएमओ डाॅ ओपी आर्य, सीओ श्रीधर बडोला सहित विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।