Home Sports फूट-फूटकर रोए स्मिथ, पूरे विवाद पर माफी मांगी

फूट-फूटकर रोए स्मिथ, पूरे विवाद पर माफी मांगी

24
0
SHARE
uknews-steve-smith

नई दिल्ली: बॉल टैंपरिंग विवाद में अपनी कप्तानी गंवाने और एक साल का बैन झेलने के बाद ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ पहली बार मीडिया से रू-ब-रू हुए। मीडिया से बात करते स्मिथ की आंखों में आंसू थे।

 

मैंने बहुत गलत फैसला लिया

सिडनी में पत्रकारों से बात करते हुए स्मिथ ने इस पूरे विवाद पर माफी मांगी। स्मिथ ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई टीम का कप्तान होने के नाते मैं इस पूरे विवाद की जिम्मेदारी लेता हूं। स्मिथ ने कहा, ‘मैंने बहुत गलत फैसला लिया और मुझे इसके परिणाम समझ में आ रहे हैं।’ उन्होंने कहा कि इस गलती का अहसास उन्हें तमाम उम्र रहेगा।

स्मिथ ने कहा, ‘मैं इस गलती को कभी भूल नहीं पाऊंगा, मुझे उम्मीद है कि समय के साथ-साथ मैं एक बार फिर इज्जत कमा पाऊंगा और लोग मुझे माफ कर देंगे।’उन्होंने कहा कि केप टाउन में जो कुछ हुआ क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने उस पर ऐक्शन ले लिया है और आज ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान होने के नाते वह इसकी पूरी जिम्मेदारी लेते हैं।

स्मिथ ने कहा, ‘यह उनकी ओर से लिया गया एक गलत फैसला था और अब इसका परिणाम भुगत रहे हैं। यह मेरी कप्तानी की नाकामी थी।’ अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान स्मिथ कई बार भावुक भी हुए। स्मिथ ने कहा कि उन्हें अपनी गलती का पछतावा है।

ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तानी करके फख्र है

स्मिथ ने कहा कि उनकी गलती अन्य लोगों के लिए एक सबक हो सकती है। स्मिथ ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तानी करके उन्हें फख्र है। उन्होंने कहा कि क्रिकेट दुनिया का सबसे महान खेल है और यह मेरी जिंदगी है। बॉल टैपरिंग विवाद के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर एक-एक साल के लिए बैन कर दिया है। इसके साथ ही वह इस साल इंडियन प्रीमियर लीग में भी नहीं खेल पाएंगे।

 

क्या था मामला

साउथ अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच न्यू लैंड्स में खेले गए सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच में फील्डिंग के दौरान ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज कैमरन बैंक्रॉफ्ट गेंद से छेड़छाड़ करते हुए कैमरे पर कैद हो गए थे। इसके बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्मिथ ने माना था कि बॉल टैंपरिंग उनकी टीम की रणनीति का हिस्सा था। इसके बाद क्रिकेट जगत में स्मिथ और ऑस्ट्रेलियाई टीम की खूब किरकरी हुई थी।

ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री ने भी इस घटना पर दुख जताया था। इसके बाद स्मिथ और उपकप्तान (पूर्व) को एक वर्ष के लिए बैन कर दिया गया था और बैनक्रॉफ्ट पर 9 महीने का बैन लगाया था।