Home Uttarakhand Kumaun मूक बधिर किशोरी को अधेड़ ने बनाया हवस का शिकार

मूक बधिर किशोरी को अधेड़ ने बनाया हवस का शिकार

187
0
SHARE

रुद्रपुर में एक अधेड़ ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी और मूक बधिर किशोरी को अपनी हवस का शिकार बनाया। मूक बधिर के गर्भवती होने की पुष्टि होने पर मामले का खुलासा हुआ। इससे हड़कंप मच गया। पुलिस ने तुरंत मुकदमा दर्ज कर आरोपी को दबोच लिया है।

क्षेत्र निवासी एक श्रमिक की मूक बधिर व मानसिक रूप से कमजोर नाबालिग पुत्री को पास में ही रहने वाले 50 वर्षीय टाल व्यवसायी ने अपनी हवस का शिकार बना लिया। वह किशोरी को डरा-धमकाकर उसका शारीरिक शोषण करता रहा। गुरुवार को जब किशोरी ने पेट में दर्द होने की शिकायत की तो परिजन उसे पास ही चिकित्सक के पास ले गए।

मामला समझ में न आने पर चिकित्सक ने किशोरी को सरकारी अस्पताल ले जाने और उसकी जांच कराने का कहा। इस पर किशोरी को सरकारी अस्पताल ले जाया गया। वहां उसके गर्भवती होने की पुष्टि हुई। इस पर उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। किशोरी से जब इस बारे में पूछताछ की गई तो उसने आरोपी के बारे में सब कुछ उगल दिया।

परिजनों ने धैर्य रखते हुए बाद में पुलिस को पूरी घटना बताई। इस पर पुलिस के भी पैरों तले से जमीन खिसक गई। मामला दो समुदाय से जुड़ा होने के कारण पुलिस तुरंत ही हरकत में आ गई और आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए उसे दबोच लिया। पुलिस ने किशोरी तथा आरोपी को मेडिकल जांच के लिए भेज दिया है।

ड्रोन से फोटोग्राफी करना पड़ा महंगा

रामनगर वन प्रभाग के आरक्षित वन क्षेत्र में दिल्ली के पर्यटकों को बिना अनुमति ड्रोन से फोटोग्राफी करना महंगा पड़ गया। रामनगर वन प्रभाग कोसी रेंज के वन क्षेत्राधिकारी भगवती प्रसाद पंत ने बताया कि बृहस्पतिवार को विभागीय टीम टेड़ा वन क्षेत्र में गश्त कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने देखा कि दिल्ली के आठ पर्यटक ड्रोन से फोटोग्राफी कर रहे थे। वन विभाग ने उनसे 30 हजार का जुर्माना वसूला।

वनकर्मियों ने पर्यटकों से इसका अनुमति पत्र मांगा तो वह नहीं दिखा सके। इसलिए वनकर्मी जंगल में मौजूद रानीबाग दिल्ली निवासी पर्यटक अनुराग दीक्षित, लोकेश कुमार, राहुल यादव, प्रशांत सैनी, अमन सिंह, राहुल, समर पाल, शरद पार्थो को रेंज कार्यालय ले आए। जहां उनसे 30 हजार रुपये जुर्माना वसूला गया। दोबारा ऐसा न करने की हिदायत देकर उन्हें छोड़ दिया गया।

LEAVE A REPLY