Home Uttarakhand Capital Doon माफिया को फायदा पहुंचाने के लिए आबकारी नीति बदल रही सरकार

माफिया को फायदा पहुंचाने के लिए आबकारी नीति बदल रही सरकार

19
0
SHARE
uknews-press confrence of pritam singh
पत्रकार वार्ता के दौरान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रदेश सरकार को अंडर टेबल सरकार करार दिया

देहरादून। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने राज्य कानून व्यवस्था, आबकारी नीति और खनन को लेकर मंगलवार को प्रदेश की भाजपा सरकार पर हमला बोला। उन्होंने सरकार को जीरो टॉलरेंस के बजाय ‘अंडर टेबल’ सरकार करार देते हुए राज्यपाल से प्रदेश सरकार को बर्खास्त करने की मांग की।
कांग्रेस भवन में पत्रकार वार्ता के दौरान पीसीसी अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था चैपट हो चुकी है। खुले आम बैंक-पेट्रोल पम्प लूटे जा रहे हैं। आबकारी नीति माफिया को लाभ पहुंचाने के लिए बार-बार बदली जा रही है।

निजी विश्वविद्यालयों को फीस तय करने का दे दिया अधिकार

सत्ता में आने के बाद से सरकार माफिया को फायदा देने के लिए लगातार नियम बदलती ही जा रही है। यही हाल खनन नीति का भी है। मेडिकल फीस मामले में सरकार ने निजी विश्वविद्यालयों को फीस तय करने का अधिकार दे दिया।

हर फैसला रोल बैक किया जा रहा है

एक बार भी नहीं सोचा कि आम छात्रों का क्या होगा। बाद में दबाव में फीस तो वापस कराई पर अब तक पूर्व में विधानसभा में पारित विधेयक को समाप्त करने के लिए अब तक अध्यादेश तक नहीं लाया गया। हर फैसला रोल बैक किया जा रहा है। यह भी संवैधानिक संकट की स्थिति से कम नहीं।

सरकार को बर्खास्त करने की मांग

कांग्रेस राज्यपाल से इस सरकार को बर्खास्त करने की मांग करती है। प्रीतम ने कहा कि सरकार खुद को भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टॉलरेंस बताते नहीं थकती लेकिन हो रहा बिल्कुल उल्टा रहा है। यह सरकार जीरो टॉलरेंस की नहीं बल्कि अंडर टेबल सरकार है।