Home Dehradun गैरसैंण स्थाई राजधानी की मांग को लेकर धरना

गैरसैंण स्थाई राजधानी की मांग को लेकर धरना

17201
0
SHARE

देहरादून। संवाददाता। विधानसभा सत्र से पूर्व गैरसैंण स्थाई राजधानी की मांग को लेकर आंदोलनकारियों ने गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान के बैनर तले परेड ग्राउंड में धरना प्रदर्शन किया।

सरकार बार-बार इस मुद्दे को नजर अंदाज कर रही

इस दौरान वरिष्ठ आंदोलनकारी रविंद्र जुगराण ने कहा कि पहले आंदोलनकारियों ने राज्य निर्माण में अहम भूमिका निभाई, मगर अभी तक स्थाई राजधानी का मुद्दा अधर में लटका है। सरकार बार-बार इस मुद्दे को नजर अंदाज कर रही है। जिसे बिल्कुल बर्दास्त नहीं किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकारों में भी गैरसैंण को लेकर के भारी आंदोलन हो चुके हैं। मगर सत्ता के नशें में चूर सरकारंे इस ओर ध्यान नहीं देती। जब राजैनतिक दल विपक्ष में होते हैं, तो गैरसैंण को राजधानी बनाने की बात जोर-शोर से उठाते हैं। आंदोलनकारी सुलोचना भट्ट ने कहा कि इस राज्य को बनाने में हमारे भाईयों-बहनों ने अपने प्राण तक न्यौछावर कर दिए।

मगर उनके सपने आजतक पूरे नहीं हो सकें। उन्होंने सरकार को चेतवानी देते हुए कहा कि यदि स़त्र के दौरान गैरसैंण राजधानी बनाने पर जोर नहीं दिया गया तो आंदोलनकारियों द्वारा उग्र आंदोलन किया जायेगा। युवा छात्रनेता आकश गौड ने कहा कि पहाड़ के लोगों की असली मांग गैरसैंण राजधानी घोषित किया जाना है। मगर शासन-प्रशासन दून से पहाड़ तक अप-डाउन करने से कतरा रहा है। उन्हें तो दून में बैठे रहने की आदत हो गई है। जब सरकार पहाड़ को राजधानी घोषित करने में डर रही तो पहाड़ के लोगों का जीवन कितना मुश्किल होता होगा। इस मौके पर शकुंतला गुसांई, प्रदीप कुकरेती, दिनेश रावल सहित कई आंदोलनकारी मौजूद रहे।