Home Entertainment दकियानूसी मानसिकता के लोगों की घटिया बात

दकियानूसी मानसिकता के लोगों की घटिया बात

159
0
SHARE
uknews-Kangana-Ranaut

बॉलिवुड अभिनेत्री कंगना रनौत इन दिनों अपने एक टीवी इंटरव्यू में रितिक रोशन के साथ अपने पर्सनल रिलेशन के बारे में बात करने के बाद सुर्खियों में हैं। बॉलिवुड में जहां एक गुट कंगना की वाहवाही कर रहा है, वहीं एक दूसरा गुट उनकी जमकर आलोचना कर रहा है।

अपने चाहने वालों को अपनी बात पहुंचाना इरादा

फरहा खान ने बिना कंगना का नाम लिए कहा था कि इस तरह की बातचीत कर वह वुमन कार्ड खेल रही हैं। सोना महापात्र ने कंगना के इंटरव्यू को पीआर सर्कस का नाम दिया। कंगना ने अपने बारे में ऐसी बात करने वालों का नाम लेते हुए कहा कि वह जो भी बातें कह रही हैं वह इस तरह की दकियानूसी और घटिया मानसिकता वाले लोगों को सफाई नहीं दे रही हैं। उनका इरादा सिर्फ अपने चाहने वालों को अपनी बात पहुंचाने का है।

औरत का आत्मसम्मान फिल्म से बढ़कर है

कंगना कहती हैं, ‘एक औरत का आत्मसम्मान उसकी प्रतिष्ठा किसी एक फिल्म से बहुत बढ़कर होती है। फिल्में तो आती-जाती रहेंगी। यदि आपके चरित्र पर कोई उंगली उठाएगा और आपको पागल, गैरजिम्मेदार, मुजरिम, गुनहगार जैसी बातें कहेगा तो आपको बिना किसी संदेह के अपनी सामाजिक प्रतिष्ठा के लिए खुद को बचाना चाहिए।

फिर चाहे वह दिन हो या रात, गर्मी हो बरसात या किसी फिल्म की प्री-रिलीज़ हो या पोस्ट रिलीज़ हो, इनसे कोई फर्क नहीं पड़ता है। आपको अपने बचाव में आवाज तो उठाना ही पड़ेगा।’

समाज में चैन से नहीं रह सकते

कंगना आगे कहती हैं, ‘मेरे बारे में जो भी कहा जा रहा है, जैसे कि मैं वुमन कार्ड खेल रही हूं या फिर सर्कस कर रही हूं यह सब घटिया और दकियानूसी मानसिकता के लोगों की घटिया बात हैं। जैसा यह लोग कह रहे हैं वैसा नहीं होता, कि पहले मैं अपनी फिल्म कि रिलीज़ का इंतजार करूं फिर अपनी प्रतिष्ठा और सम्मान को बचाने के लिए अपनी बात कहूं।

इल्जामों के साथ रहना मुश्किल

जब-जब मुझसे सवाल पूछा जाएगा, तब-तब मैं जवाब दूंगी। इतने इल्जाम लगने के बाद आप समाज में चैन से नहीं रह सकते हैं। जो भी कहा जा रहा है उसका जवाब तो देना ही चाहिए वरना उसी समाज में इल्जामों के साथ रहना मुश्किल हो जाएगा।’

मेरा हित चाहने वाले लोग प्रभावित

अपनी बात रखते हुए कंगना ने आगे कहा, ‘अगर आप पब्लिक फिगर हैं, तो अपने चाहने वालों के लिए आपको अपनी बात कहना जरूरी हो जाता है। फरहा खान, सोना महापात्रा, करण जौहर और लेखक अपूर्व जैसे लोग कुछ भी कहते हैं तो मेरा हित चाहने वाले लोग बेहद प्रभावित हो जाते हैं।

ताकि उनको बुरा न लगे

मैं यह जो सफाई दे रही हूं वह घटिया और दकियानूसी बात कहने वालों के लिए नहीं है, यह सब मेरे चाहने वालों के लिए हैं, ताकि उनको बुरा न लगे। यह दकियानूसी और घटिया बात करने वाले लोगों के कहने से मुझे सचमुच पर्सनली कोई भी फर्क नहीं पड़ता है, लेकिन मेरे फैंस को पड़ता है। अगर मेरा हित चाहने वाले लोग न होते तो मैं कभी कोई सफाई नहीं देती।’

कंगना की फिल्म सिमरन 15 सितंबर को सिनेमाघरों में रिलीज़ होगी। फिल्म का निर्देशन हंसल मेहता में किया है। फिल्म में कंगना एक तलाकशुदा गुजराती महिला की भूमिका में नजर आएगीं, जिसे जुए और चोरी की लत है।

LEAVE A REPLY