Home National Uttarakhand सीएम की धर्मपत्नी के खिलाफ कार्यवाही की मांग

सीएम की धर्मपत्नी के खिलाफ कार्यवाही की मांग

49
0
SHARE
uknews-Workers of Jan Sangh Morcha who surrounded the SDM in Vikas Nagar
विकासनगर में एसडीएम का घेराव करते जन संघर्ष मोर्चा के कार्यकर्ता।

मोर्चा ने किया प्रदर्शन

विकासनगर/देहरादून। जनसंघर्ष मोर्चा कार्यकर्ताओं ने जीएमवीएन के पूर्व उपाध्यक्ष एवं जनसंघर्ष मोर्चा अध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी के नेतृत्व में सूबे के मुख्यमन्त्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की धर्मपत्नी सुनीता रावत के खिलाफ विभागीय कार्यवाही की मांग को लेकर तहसील कार्यालय में प्रदर्शन किया व एसडीएम का घेराव किया। मोर्चे ने इस संबंध में राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन उपजिलाधिकारी विकासनगर जितेन्द्र कुमार को सौंपा।

एसडीएम के माध्यम से राज्यपाल को भेजा ज्ञापन

नेगी ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमन्त्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की धर्मपत्नी सुनीता रावत जो कि अजबपुर कलां (रायपुर ब्लाॅक), देहरादून के रा0पू0मा0 विद्यालय में बतौर सहायक अध्यापिका तैनात हंै, ने वर्ष 2010 में बिना विभागीय अनुमति के 0.101हे0 व 0.126 हे0 के दो भूखण्ड तथा वर्ष 2012 में कुल 833 वर्ग मीटर भूमि के तीन भूखण्ड खरीदे, जबकि कर्मचारी सेवा आचरण नियमावली 1956 में स्पष्ट प्रावधान है कि कोई भी कर्मचारी बिना विभागीय अनुमति के किसी भी प्रकार की चल-अचल सम्पत्ति का क्रय-विक्रय नहीं करेगा।
नेगी ने कहा कि महत्वपूर्ण यह है कि जब एक आम शिक्षिका (उत्तरा बहुगुणा) का मुख्यमन्त्री जनता दरबार में बिना विभागीय अनुमति के आना अनुशासनहीनता हो सकती है तथा उनको इस अनुशासनहीनता एवं अन्य कारणों से निलम्बित किया जा सकता है तो इनकी धर्मपत्नी को बिना विभागीय अनुमति के करोड़ों रू0 की भूमि खरीद मामले में अनुशासनहीनता के कारण क्यों निलम्बित व अन्य कार्यवाही नहीं की जा सकती।

सरकार को निर्देशित करने का कष्ट करें

प्रदेश में आम और खास के लिए अलग-अलग कानून तो नहीं हो सकते। नेगी ने राज्यपाल से मांग की कि जनमानस की भावनाओं का सम्मान करते हुए एवं न्यायहित में सी0एम0 श्री रावत की धर्मपत्नी सुनीता रावत को विभागीय अनुशासनहीनता के मामले में कार्यवाही हेतु सरकार को निर्देशित करने का कष्ट करें।
एसडीएम का घेराव करने वालों में मोर्चा महासचिव आकाश पंवार, दिलबाग सिंह, डाॅ0 ओ0पी0 पंवार, ओम प्रकाश राणा, जयदेव सिंह नेगी, प्रवीण शर्मा पीन्नी, आशीष कुमार, विनोद गोस्वामी, हाजी फरहाद आलम, मौ0 असद, रहवर अली, गौर सिंह चैहान, नत्थी सिंह पंवार, इसरार, जयपाल सिंह, सलीम मिर्जा, मदन सिंह, जयकृत नेगी, किशन पासवान आदि शामिल रहे।