Home Sports वो 22 गज की पिच थी, अब आगे की बात करें

वो 22 गज की पिच थी, अब आगे की बात करें

अनिल कुंबले ने मीडिया के सवालों पर स्ट्रेट बैट से की बैटिंग

69
0
SHARE
वो 22 गज की पिच थी, अब आगे की बात करें

बेंगलुरु: टीम इंडिया के कोच अनिल कुंबले ने संकेत दिए हैं कि वह और उनकी टीम पुणे टेस्ट की कड़वी याद को भुलाकर अब आगे की सोच रही है। इस बार कोच अनिल कुंबले प्रेस कॉन्फ्रेंस में आए, तो उनसे स्पिन ट्रैक को लेकर ही सवाल पूछे गए।

इस पूर्व स्पिन गेंदबाज ने मीडिया के सवालों पर स्ट्रेट बैट से बैटिंग की। उन्होंने पत्रकारों से सीधे-सीधे कहा, ‘वह सिर्फ 22 गज की पिच थी और यहां भी इसमें कोई अंतर नहीं होगा, तो अब आगे की बात करें।’ कुंबले ने पिछले टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया से मिली हार और टीम सरेंडर पर सोचने से इनकार करते हुए उसमें पॉजिटिविटी का संचार करने पर जोर दिया।

अनिल कुंबले ने कहा, ‘बतौर कोच मेरे लिए यह बहुत जरूरी है कि मैं आगे का सोचूं। पिछला टेस्ट उन मैचों में से था, जो हमारे नजरिए से सही नहीं गया। हमारे पास इस सीरीज में अभी तीन टेस्ट और बचे हैं और इन पर ही ध्यान रख रहे हैं।

हमने इस घरेलू सीजन में शानदार क्रिकेट खेली है। पिछले टेस्ट में जो हुआ वह अब बीती बात है। ऑस्ट्रेलिया उस मैच में शानदार खेली, हम उस पिच पर शानदार नहीं खेल पाए। यह चुनौतिपूर्ण था, लेकिन हम वैसा नहीं कर पाए।’

2004 में ऑस्ट्रेलिया से टेस्ट सीरीज गंवा चुकी टीम का हिस्सा रहे कुंबले को उम्मीद है कि टीम बेंगलुरु में वापसी करेगी और सीरीज जीतने में सफल होगी। इस पूर्व स्पिन गेंदबाज ने कहा, ‘आप हर मैच नहीं जीत सकते। कभी न कभी आपको हार मिलती ही है। किसी भी इंटरनैशनल टीम के लिए लगातार जीतते रहने चुनौतिपूर्ण है और यह टीम पिछले लंबे समय ऐसा ही करती आ रही है।’

उन्होंने कहा, ‘हमारी टीम श्री लंका, भारत, वेस्ट इंडीज में बेहतरीन टीमों के खिलाफ अच्छा खेली है। हमने कई मुश्किल स्थितियों से मैच निकलकर मैच जीता है। हमने कई मुश्किल चुनौतियों में भी खुद को साबित किया है, लेकिन पिछले मैच में हम यह नहीं दोहरा पाए। इसलिए हम वह मैच हार गए। इसलिए हम फिर से अपने विनिंग लय को शुरू करना चाहते हैं।’
5 बोलर्स को खिलाने के सवाल पर कुंबले ने कहा, ‘यह परिस्थितियों पर निर्भर करता है कि पिच और कंडिशन के हिसाब से टेस्ट मैच को जीतने के लिए कौन से 4 या कौन से 5 बोलर्स का सही कॉम्बिनेशन है। फिलहाल हमारा ध्यान आगे के मैच और सीरीज जीतने पर है।

LEAVE A REPLY