Home Uttarakhand Garhwal विभिन्न भाषाओं में मिलेगी केदारनाथ यात्रा की सम्पूर्ण जानकारी

विभिन्न भाषाओं में मिलेगी केदारनाथ यात्रा की सम्पूर्ण जानकारी

72
0
SHARE
uknews-kedarnath-shrine
रुद्रप्रयाग। केदारनाथ यात्रा पर आने वाले तीर्थ यात्रियों के लिये अच्छी खबर है। यात्रा पर आने वाले तीर्थ यात्रियों को अब भाषा को लेकर कोई परेशानी नहीं होगी। प्रशासन एक ऐसा मोबाइल एप तैयार कर रहा है, जिसमें देश की अधिकांश भाषाएं होंगी। यात्री अपने मोबाइल के प्ले स्टोर से इस एप को डाउनलोड़ करके अपनी भाषा में ही केदारनाथ यात्रा और केदारनाथ यात्रा पड़ावों के बारे में जानकारी जुटा सकता है।

प्रशासन भाषा की समस्या दूर करने के लिये कर रहा एप तैयार

केदारनाथ यात्रा पर आने वाले तीर्थ यात्रियों को इस बार भाषा से संबंधित कोई दिक्कतें नहीं होंगी। प्रशासन एक ऐसा एप तैयार कर रहा है, जिसमें देश की बीस भाषाओं के बारे में केदारनाथ धाम और केदारनाथ यात्रा पड़ावों के बारे में पूर्ण जानकारी होगी। इस एप में गुजराती, मराठी, तमिल, तेलगू, कन्नड़, अंग्रेजी, हिंदी, मलयालम, बंगाली आदि भाषाओं के बारे में केदारनाथ धाम के साथ ही केदारनाथ के यात्रा पड़ावों के बारे में जानकारी होगी।

एप में जोड़ी जा रही हैं बीस भाषाएं

यात्री एप को अपने मोबाइल के प्ले स्टोर से डाउनलोड करेंगे। फिर इस एप को ओपन करके केदारनाथ धाम, गौरीकुंड, भीमबली, लिनचैली, मंदाकिनी नदी आदि के बारे में जानकारी जुटा सकते हैं। साथ ही एप में केदारनाथ धाम जाने वाले रास्तों की भी सटिक जानकारी रहेगी। एप में केदारनाथ में चल रहे कार्यों के बारे में भी जोड़ा जायेगा।
कई बार देखने में आया है कि बाहरी राज्यों से आने वाले तीर्थ यात्रियों को भाषा संबंधी दिक्कतें हो जाती हैं। स्थानीय जनता उनकी भाषा को नहीं समझ पाती है। जिससे वह केदारनाथ के साथ ही अन्य पड़ावों के बारे में जानकारी नहीं जुटा सकते हैं, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। उन्हें मोबाइल के जरिये उनकी भाषा में ही सभी स्थानों की सम्पूर्ण जानकारी मिल जायेगी।

बीस अप्रैल तक एप बनकर हो जायेगा तैयार

यात्री सोनप्रयाग में एप को ओपन करता है और आगे बढ़ता रहता है तो जिन-जिन स्थानों से होकर यात्री गुजरेगा, वहां-वहां की जानकारी उसे मिलती रहेगी। इन दिनों एप को बनाने का कार्य चल रहा है। 20 अप्रैल तक एप तैयार हो जायेगा।
जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने बताया कि केदारनाथ यात्रा पर आने वाले तीर्थ यात्रियों की भाषा संबंधी दिक्कतों को दूर करने के लिये यह एप तैयार किया जा रहा है। इस एप में 20 विभिन्न भाषाओं को जोड़ा जा रहा है और केदारनाथ के साथ ही केदारनाथ यात्रा पड़ावों की सम्पूर्ण जानकारी इस एप में रहेगी। जिससे यात्रियों को एप के जरिये यहां के बारे में जानने में आसानी होगी। उन्होंने कहा कि 20 अप्रैल तक एप बनकर तैयार हो जायेगा।