Home Sports दिनों-दिन बढ़ती ही जा रही मोहम्मद शमी की मुश्किलें

दिनों-दिन बढ़ती ही जा रही मोहम्मद शमी की मुश्किलें

24
0
SHARE
uknews-mohammed shami

मुंबई: पत्नी के साथ घरेलू हिंसा और दूसरी महिलाओं से नाजायज संबंधों के विवादों में घिरे टीम इंडिया के फास्ट बोलर मोहम्मद शमी की मुश्किलें दिनों-दिन बढ़ती ही जा रही हैं। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने अपनी एेंटी-करप्शन यूनिट (ACU) को शमी पर लगे मैच फिक्सिंग के आरोपों की जांच को कहा है। शमी की पत्नी हसीन जहां ने उन पर दूसरे आरोपों के साथ-साथ मैच फिक्सिंग के आरोप भी लगाए थे।

CoA के चीफ विनोद राय ने शमी पर जांच के लिए कहा

सुप्रीम कोर्ट द्वारा बीसीसीआई में नियुक्त प्रशासनिक समिति (CoA) के चीफ विनोद राय ने बुधवार सुबह ACU के हेड नीरज कुमार को ई-मेल लिख कर शमी पर जांच के लिए कहा है। इसके साथ ही राय ने इस जांच रिपोर्ट को एक सप्ताह के भीतर सौंपने का निर्देश दिया है। इस ईमेल को बीसीसीआई के अधिकारियों और सीईओ राहुल जौहरी को भी भेजा गया है।

CoA ने भी टेप को सुना

अपने इस ईमेल में विनोद राय ने लिखा, ‘विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स में शमी पर लगे आरोपों की चर्चा है। CoA ने भी उस टेप को सुना है, जिसमें कथित तौर पर शमी की पत्नी शमी से बात कर रही हैं। यह ऑडियो रिकॉर्डिंग पब्लिक डोमेन में मौजूद है। CoA इस रिकॉर्डिंग के सिर्फ उस भाग से चिंतित है, जिसमें शमी को यह कहते सुना जा रहा है कि किसी ‘मोहम्मद भाई’ नाम के शख्स ने पाकिस्तानी महिला ‘अल्बिशा’ को दुबई में उन्हें (शमी) पैसे देने के लिए भेजा था।’

हसीन जहां ने मैच फिक्सिंग में लिप्त होने का भी जताया था शक

शमी की हसीन जहां ने भी अपने पति पर घरेलू हिंसा और दूसरी महिलाओं से नाजायज संबंधों के आरोप लगाने के साथ-साथ उन पर मैच फिक्सिंग में लिप्त होने का भी शक जताया था। विनोद राय ने ACU के नीरज कुमार को इस मामले की जांच के लिए कहा है।

इस जांच में (i) ‘मोहम्मद भाई’ और ‘अल्बिशा’ के बारे में जानकारी, (ii) क्या वाकई में किसी तरह का कोई पैसा मोहम्मद भाई के द्वारा अल्बिशा के जरिए शमी को भेजा गया है और (iii) यदि हां, तो इस पैसे से शमी का क्या संबंध था यह उन्हें किसलिए भेजा गया। आदि बातों की जांच होगी।

मोहम्मद शमी का कॉन्ट्रैक्ट होल्ड पर

शमी पर हसीन जहां के आरोप सामने आने के बाद बीसीसीआई ने पहले ही मोहम्मद शमी का कॉन्ट्रैक्ट होल्ड पर डाल दिया है। राय ने नीरज कुमार को 7 दिन की डेडलाइन के साथ इस मामले की जांच के लिए कहा है।