Home Uttarakhand Capital Doon सीएम ने बच्चों के साथ मनाया फूलदेई त्योहार

सीएम ने बच्चों के साथ मनाया फूलदेई त्योहार

36
0
SHARE
uknews-cm celebrate festive of flowers with childrens

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बुधवार को मुख्यमंत्री आवास में पर्वतीय संस्कृति की त्रिवेणी फूल-फूल माई/फूल देई त्यौहार बच्चों के साथ मनाया। मुख्यमंत्री ने प्रकृति के इस त्यौहार की बच्चों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह पर्व उत्तराखण्ड की संस्कृति को उजागर करता है।

फूलदेई उत्तराखण्ड की प्राचीन परम्परा

फूलदेई उत्तराखण्ड की प्राचीन परम्परा है। नव वर्ष के आगमन पर बच्चे घरों में जाकर पुष्पदान करते है और बड़ों का आशीर्वाद लेते है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने कहा कि हमें अपनी प्राचीन संस्कृति को संजोकर रखने की जरूरत है। प्रकृति के इस त्यौहार को संजोए रखने के लिये सबको मिलकर प्रयास करने होंगे।

फूलदेई का त्यौहार सुख शांति की कामना का प्रतीक है। उन्होंने प्रदेशवासियों को फूलदेई त्यौहार की शुभकानाएं एवं बधाई दी हैै।

सचिवालय और विधानसभा में ई-गेट पास सिस्टम का शुभारम्भ

uknews-cm inaugrate e-gate pass system
देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने बुधवार को सचिवालय में सचिवालय/विधान सभा में प्रवेश हेतु आगन्तुकों के लिए ई-गेट पास सिस्टम का शुभारम्भ किया। सचिवालय/विधान सभा में वर्तमान पास व्यवस्था के साथ-साथ ई-पास व्यवस्था लागू की गयी है। यह स्वचालित व्यवस्था है। आगन्तुकों, कर्मचारियों तथा कार के लिए किसी भी स्थान तथा किसी भी समय गेट पास बनाया जा सकता है।

आने वाले आगन्तुकों की आसानी से हो सकेगी पहचान

ई-पास व्यवस्था हेतु पूर्व-पंजीकरण करवाया जा सकता है। इससे बाहर से आने वाले आगन्तुकों की पहचान आसानी से हो सकेगी। इससे गेट पास में  शुद्धता, ज्यादा साफ फोटाग्राफ तथा एम. आई.एस. रिर्कोडिग सुनिश्चित होगी। ई-पास व्यवस्था हेतु आगन्तुक अपने तथा अपने वाहन के लिए सम्बन्धित अधिकारी से निर्धारित तिथि पर मिलने के लिए गेट पास हेतु आॅनलाईन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

मोबाइल एवं ई-मेल पर एक ओ.टी.पी. भेजा जायेगा

एक बार आगन्तुक द्वारा गेटपास हेतु आवेदन करने पर एप्लीकेशन द्वारा सम्बन्धित कार्यालय को स्वीकार/अस्वीकार करने हेतु भेजा जायेगा। एक बार आवेदन स्वीकार होने पर आगन्तुक को उनके उनके मोबाइल एवं ई-मेल पर एक ओ.टी.पी. भेजा जायेगा। आगन्तुक ओ.टी.पी. भरकर गेटपास के बूथ पर गेटपास प्रिंट कर सकता है। आगन्तुक गेटपास एप पर भी गेटपास हेतु आवेदन कर सकता है।

92 निजी सचिवों को दिया जा चुका व्यवहारिक प्रशिक्षण

निदेशक आई.टी.डी.ए. अमित सिन्हा ने बताया कि ई-पास सिस्टम के सम्बन्ध में आई.टी.डी.ए. के माध्यम से साॅफ्टवेयर तैयार किया गया है तथा गेट पास बूथ से गेट पास हेतु कम्प्यूटर भी स्थापित कर दिया गया है। जिसका संचालन सुरक्षा कर्मिकों के द्वारा किया जा रहा है।

साथ ही ई-गेट पास सुविधा के सम्बन्ध आई.टी.डी.ए. के माध्यम से सचिवालय/विधान सभा में तैनात 92 निजी सचिवों को व्यवहारिक प्रशिक्षण भी दिया जा चुका है। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव ओम प्रकाश, सचिव मुख्यमंत्री राधिका झा भी उपस्थित थी।