Home National Uttarakhand भारतीय सैनिकों की वीरता पर देश को नाजः त्रिवेन्द्र

भारतीय सैनिकों की वीरता पर देश को नाजः त्रिवेन्द्र

20
0
SHARE
uknews-CM inspected the swearing parade of the Indian Army held at Somnath Ground
सोमनाथ मैदान में आयोजित भारतीय सेना की कसम परेड का निरीक्षण करते सीएम।
रानीखेत/देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा है कि भारतीय सैनिक, देश का गौरव हैं। हम सभी को अपने सैनिकों की बहादुरी पर नाज है। सैनिक बनकर देश सेवा करना पुण्य का काम है। मुख्यमंत्री रानीखेत के सोमनाथ मैदान में आयोजित भारतीय सेना की कसम परेड़ के अवसर पर सम्बोधित कर रहे थे।

कुमायूं रेजीमेंट सेंटर के 155 रिक्रूट भारतीय सेना में शामिल हुए

मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय सेना के कुमाऊॅ और नागा रजिमेंट के गौरवशाली इतिहास में एक अध्याय और जुड़ गया है। देेशभक्ति से ओतप्रोत बैंडधुन पर कदमताल करते इन सैनिकों ने अनुशासन की एक बेहतरीन मिसाल दी है। हमारे सैनिकों ने हमेशा ही एकता अखण्डता को बनाये रखने के लिये सीमाओं के सजग प्रहरी के रूप में काम किया।

सेना का जीवन कठिन

सैनिक बनकर देश सेवा करना एक पुण्य का काम है। सेना का जीवन कठिन होता। उन्हांेने जवानों को सम्बोधित करते हुये कहा कि जिस कठिन परिश्रम के साथ आप लोगों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया उसी कडी मेहनत से काम कर देश सेवा के लिये तत्पर रहकर काम करना होगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि इन जवानों ने देश की सेवा के लिए सेना में शामिल होकर अपने जीवन का महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री ने बताया कि उनके पिता स्व.प्रताप सिंह रावत भी सैनिक थे। इसी कारण वे भी सेना की गौरवशाली परंपरा से वाकिफ है।
देवभूमि के सैनिकों ने अपने त्याग और साहस के बल पर प्रदेश और देश का नाम रोशन किया है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि नव प्रशिक्षित जवान सेना की महान गौरवशाली परम्परा को बनाए रखेंगे।

उत्तराखण्ड के 67 जवान

सोमवार को सोमनाथ मैदान में 155 भारतीय सेना के जवानों की कसम परेड़ आयोजित की गई। जिसमें 67 जवान उत्तराखण्ड के थे, शेष 88 जवान महाराष्ट्र, बिहार, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान व अन्य राज्यों के थे। इस समारोह में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले रिक्रूट को विशेष मेडल से सम्मानित किया गया। जिनमें महेश ऐरी, रोहित चिलवाल, प्रदीप मेहरा, विशाल सिंह, अतुल जोशी, रमेश कुमार, पंकज सिंह सम्मिलित थे।
धर्मगुरू गणेश दत्त जोशी सहित अन्य सहयोगियों ने राष्ट्रीय ध्वज व गीता को साक्षी मानकर नव प्रशिक्षुओं को शपथ दिलायी। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, कर्नल आॅफ द रजिमेंट ले0 जनरल बी0एस0 सेरावत, सेना मैडल और कमांडेट ब्रिगेडियर जी0एस0 राठौर ने भी परेड की सलामी ली।
इस भव्य परेड़ के कमान्डर विकास कुमार थे। इस भव्य परेड़ में कर्नल नीरज सूद, शौर्य चक्र कार्यवाहक उप कमांडेट के0आर0सी0 एवं टी0बी0सी0 प्रशिक्षण बटालियन, ले0 कर्नल नक्षत्र भंडारी, जी0एस0ओ0 1 (प्रशिक्षण) ले0 कर्नल विजय नरसिम्हन, शिक्षा अधिकारी, केन्द्र के सभी सैन्य अधिकारी, सूबेदार मेजर, जे0सी0ओ0, सैनिको सहित नव प्रशिाक्षुओं के परिजन, जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पी0रेणुका देवी, संयुक्त मजिस्टेªट हिमांशु खुराना, अपर जिलाधिकारी के0एस0 टोलिया, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, मसूरी विधायक गणेश जोशी, जिलाध्यक्ष गोविन्द सिंह पिलख्वाल सहित अन्य गणमान्य लोग व सैन्य अधिकारी उपस्थित थे। इस कार्यक्रम का संचालन लक्ष्मण सिंह व प्रतिभा अवस्थी ने किया।