Home Political समझिये … आम बजट पर भाजपा ने किस तरह गिनाए फायदे

समझिये … आम बजट पर भाजपा ने किस तरह गिनाए फायदे

94
2
SHARE

देहरादून। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने आम बजट को ऐतिहासिक बताते हुये कहा कि इसमें गरीबों, किसानों, महिलाओं, युवाओं का विशेष ध्यान रखा है। भट्ट ने कहा बजट में देश के सर्वांगीण विकास पर जोर दिया गया है। उन्हांेने कहा कि इस बजट से उत्तराखण्ड को भी विशेष लाभ होगा।
केन्द्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली द्वारा संसद में पेश आम बजट पर प्रतिक्रिया देते हुये उन्होंने कहा कि इसके अन्तर्गत देश के 10 करोड़ परिवारों को स्वास्थ्य संरक्षण प्रदान किया जायेगा जिसके अन्तर्गत करीब 50 करोड़ लोगों को लाभ पहुंचेगा। यह दुनिया में सरकार की तरफ से स्वास्थ्य की दिशा में उठाया गया सबसे बड़ा कदम है। इसी क्रम में जहां देश में 24 नये मेडिकल कॉलेज खोले जायेगें वहीं गरीबों को निशुल्कः डायलिसिस की सुविधा भी प्रदान की जायेगी। उन्हांेने कहा कि बजट में किसानों का विशेष ध्यान रखा गया है और 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जहां एक ओर सभी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य उत्पादन लागत से डेढ़ गुना करने का फैसला किया गया है वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में 22 हजार हाट कृषि बाजार के रूप में विकसित किये जाने हैं। ऑरगेनिक खेती, फूड प्रोसेसिंग, मेघा फूड पार्क के लिये विशेष प्रावधान किये गये हैं। 100 करोड़ टर्नओवर वाली किसान कम्पनियों को कर में 100 प्रतिशत छूट दी जायेगी व 250 करोड़ रूपए तक टर्नओवर वाली कम्पनियों को केवल 25 प्रतिशत कार्पोरेट टैक्स देना होगा। सामाजिक सुरक्षा के सम्बन्ध में बजट में किये गये प्रावधान का उल्लेख करते हुये भट्ट ने कहा कि इससे जुड़ी योजनाओं के लिये करीब 10 हजार करोड़ रूपए का आवंटन किया गया है। देश में इस साल 70 लाख रोजगार के अवसर सृजित किये जायेगें। अनु॰जाति, जनजाति के कल्याण के लिये जहां आवांटित राशि में भारी बढ़ोतरी की गयी है वहीं देश के हर गरीब को 2022 तक घर देने का लक्ष्य रखा गया हैं। एक्साईज डयूटी में कटोती से पेट्रोल व डीजल सस्ते होंगे। भट्ट ने कहा कि ग्रामीण विकास के लिये सरकार प्रत्येक गांव को ग्रामीण बाजारों के साथ अच्छी सड़को से जोड़े जाने, 1.75 करोड़ घरों में बिजली पहुंचाने, 5 लाख गांव में ब्राडबैण्ड पहुंचाने और अगले वित्तीय वर्ष में 2 करोड़ नये शौचालयों के निर्माण का भी लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
भट्ट ने रेलवे, वायु सेवा व नगर विकास के लिये बजट में किये गये प्रावधानों का उल्ल्ेख करते हुये कहा कि रेल की 3600 किमी॰ पटरियों का नियमितीकरण किया जायेगा। रेलवे के 4 हजार किमी॰ क्षेत्र के विद्युतीकरण पर जोर देने वर्तमान में देश में 124 हवाई अडडो की संख्या 5 गुना करने, उड़ान स्कीम के अन्तर्गत हवाई अडडों और हैलीपैड की संख्या बढ़ाने का भी निर्णय लिया गया है। शिक्षा के क्षेत्र में बजट में विशेष ध्यान देते हुये शिक्षकों की गुणवत्ता को सुधारने के लिये उनके प्रशिक्षण पर विशेष ध्यान देने, 2022 तक आदिवासी इलाकों में एकलव्य आवासीय स्कूल खोलने, प्री नर्सरी से 12वी तक की शिक्षा व्यवस्था में सुधार करने और स्कूलों में ब्लैकबोर्ड की जगह डिजिटल बोर्ड लगाने के निर्णय भी लिये गये हैं। भट्ट ने कहा कि भारत शीघ्र ही दुनिया की पांचवी बड़ी इकोनोमी बन जायेगा और देश की विकास दर 8 फीसदी रहने की उम्मीद है। उन्होेनेें कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है। वर्तमान बजट इसी विकास का परिचायक है। बजट की विपक्षी दलों द्वारा आलोचना करने पर उन्होनें कहा कि सच्चाई यह है कि विपक्ष के पास बजट की आलोचना का कोई मजबूत आधार नहीं है और वह इस शानदार बजट से बौखला गया है।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY