Home Dehradun मीडिया के सामने फूट-फूट कर रोने लगी कृष्णा

मीडिया के सामने फूट-फूट कर रोने लगी कृष्णा

युवती का कहना- बहन के हत्यारे ने मेरा भी भविष्य बर्बाद कर दिया

9329
0
SHARE

देहरादून। संवाददाता। साल 2013 में विजय पार्क निवासी प्रियंका जोशी की हत्या का मामला प्रकाश में आया था। जिसमें अभी तक खुलासा नहीं हो सका है। वहीं अब बड़ी बहन कृष्णा जोशी ने हत्यारोपी युवक के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। युवती का कहना है कि हत्या वाले दिन अनिल ही उसकी बहन को लेकर गया था, जिसके बाद से मामलें में न्याय नहीं मिल सका है। पुलिस ने उल्टा मृतिका की बहन कृष्णा को ही जेल भेज दिया था।

वीरवार को प्रेस क्ल्ब में पत्रकारों से बात करते हुए मृतिका की बड़ी बहन कृष्ण ने बताया कि साल 2013 में 28 फरवरी के दिन अनिल नौटियाल निवासी भटाड़ जो उनके साथ ही विजय पार्क स्थित किराये के मकान में रहता था बहन को लेकर गया था। उसी दिन देर शाम कमरे पर आकर कहने लगा कि प्रियंका कहां है। इस पर बड़ी बहन कृष्णा ने कहा कि तुम ही उसे लेकर गये थे, कि उसे विकासनगर छोड़ दोगे। मगर युवक गुमराह करते हुए जवाब देने लगा।

जिसके चार दिन बाद 2 मार्च को 2013 को पुलिस को सूचना मिली कि प्रेमनगर से आगे धूरकोट के जंगलों में आम के पेड़ से लटकी हुई एक युवती की लाश मिली है। मौके पर पहुंचे परिजनों ने युवती की शिनाख्त की जिस पर परिजनों ने अनिल नौटियाल पर हत्या का अरोप लगाते हुए सहसपुर थाने में तहरीर दी। मगर पुलिस ने मृतिका के बड़ी बहन कृष्णा को ही जेल भेज दिया। छह महीने जेल में रहने के बाद उसकी जमानत हो सकी।

खाकीधारी इस सब घटना को दबाते चले गए

इसके बाद से कृष्णा का जीवन पूरी तरह बर्बाद हो गया। वह पूरी तरह से मानसिक तनाव में आ गई और खाकीधारी इस सब घटना को दबाते चले गए। बताया जा रहा है कि आरेपी युवक के साथ कोई पहुंचा हुआ आदमी इस काम में शामिल है। जिस वजह पुलिस उससे सख्ती से पूछताछ करने में गुरेज कर रही है। वहीं अब मृतिका की बड़ी बहन और परिजन मीडिया से न्याय की गुहार लगा रहे हैं।