Home National Uttarakhand जीरो टॉरलेंस … धोखे से सरकारी भूमि कब्जाने वालों पर सरकार सख्त

जीरो टॉरलेंस … धोखे से सरकारी भूमि कब्जाने वालों पर सरकार सख्त

आयुक्त गढवाल ने अधिकारियों को दिए निर्देश, इस तरह के मामलों पर ठीक से पैरवी को कहा

97
0
SHARE

देहरादून। धोखे से सरकारी एवं वन भूमि कब्जाने वालों पर सरकार की नजर है। सरकार कब्जे करने वालों पर सख्त कार्रवाई के मूड में है। इसी परिपेक्ष्य में सोमवार को आयुक्त गढवाल दिलीप जावलकर की अध्यक्षता में, ई.सी रोड स्थित आयुक्त कैम्प कार्यालय में ‘लैण्ड फ्राड समन्वय समिति’ की बैठक हुई।
सरकारी एवं वन विभाग की भूमि पर फर्जी-धोखाधड़ी से कब्जा, अतिक्रमण, आवन्टन, विक्रय, खुर्द-बुर्द इत्यादि प्रकरणों पर विस्तृत चर्चा करते हुए आयुक्त गढवाल ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्हांेने जिलाधिकारी देहरादून को निर्देश दिये कि भूमि से सम्बन्धित विभिन्न लम्बित प्रकरणों के लिए अपर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कमेटी गठित करते हुए जांच आख्या जिलाधिकारी कार्यालय के माध्यम से भेजने के निर्देश दिये। उन्होने जिलाधिकारी देहरादून को मौजा जोहड़ी गांव परगना केन्द्रीय दे.दून स्थित ग्राम समाज की भूमि पर अवैध कब्जे के सम्बन्ध में तहसील के राजस्व अभिलेख में छेड़छाड़ करने के मामलों में एसआईटी में अज्ञात के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करने तथा अधीनस्थ कामिकों को सरकारी भूमि के अतिक्रमण रोकने के हरसम्भव प्रयास करने के साथ ही न्यायालयों में लम्बित मामलों की ठीक से पैरवी करते रहने और लगातार मामलों की मॉनिटिरिंग करने के निर्देश दिये।
आयुक्त ने त्यूनी में 26 बीघा सरकारी जमीन एक ही व्यक्ति के नाम दर्ज होने और अन्य व्यक्तियों द्वारा मुआवजे की मांग करने की जांच करते हुए आख्या शीघ्रता से प्रेषित करने के निर्देश दिये। उन्होने निर्देश दिये कि जहां प्रत्यक्ष रूप से सरकारी भूमि पर कब्जा अथवा अतिक्रमण दिखता है ऐसे मामलों में तत्काल बेदखली की कार्यवाही करें साथ ही सम्बन्धित के विरूद्ध कार्यवाही करें। उन्होने एमडीडीए, वन विभाग, नगर निगम और राजस्व विभाग सभी को हर हाल में सरकारी जमीनों पर हो रहे अतिक्रमणध्कब्जे रोकने के निर्देश दिये।
बैठक में पुलिस उप महानिरीक्षक गढवाल पुष्पक ज्योति, जिलाधिकारी एस.ए मुरूगेशन, अपर आयुक्त गढवाल हरक सिंह रावत, प्रभागीय वनाधिकारी देहरादून, सचिव एमडीडीए पीसी दुम्का एवं सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY