Home My Govt ‘गुपचुप ऋण नहीं बांटे, मेले और बहुउद्देशीय शिविर लगाएं’

‘गुपचुप ऋण नहीं बांटे, मेले और बहुउद्देशीय शिविर लगाएं’

43
0
SHARE

देहरादून। परिवहन, समाज कल्याण, अल्पसंख्यक कल्याण, छात्र कल्याण, ग्रामीण तालाब विकास, सीमान्त क्षेत्र विकास, परिक्षेत्र विकास एवं प्रबन्धन, पिछड़ा क्षेत्र विकास मंत्री यशपाल आर्य ने कहा कि गुपचुप तरीके से ऋण न बांटा जाये। ऋण मेला, बहुउद्देशीय शिविर में ऋण का वितरण किया जाये। ऋण मेले का आयोजन प्रत्येक जनपद में किया जायेगा। ऋण वितरण में ऐसे व्यवसाय को चुना जाये जिसकी बाजार में मांग हो।
आर्य ने विधानसभा सभाकक्ष में उत्तराखंड बहुउद्देशीय वित्त विकास निगम की बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने कहा पर्वतीय क्षेत्रों से पलायन रोकने के लिए युवाओं को स्वरोजगार हेतु जैविक कृषि, मौन पालन, फ्लोरीकल्चर, ब्यूटी पार्लर, कंप्यूटर ट्रेनिंग के लिए वित्त विकास निगम से ऋण मुहैया कराया जाये, जिससे पहाड़ के युवाओं को रोजगार मुहैया कराया जा सके। मंत्री ने इस कार्य के लिए प्रचार-प्रसार के लिए विशेष बल देते हुए कहा कि जनता दर्शन, तहसील दिवस एवं बीडीसी बैठक में योजनाओं की जानकारी दी जाये एवं ऋण मेले का आयोजन किया जाये। ऋण वितरण में पारदर्शिता निश्चित की जाये। मंत्री ने पिछले तीन वर्षों में किन लाभार्थियों को, किस मद में, कितना ऋण वितरण किया गया है इसकी सूची 10 दिनों के भीतर प्रस्तुत करने को कहा। अभी तक कुल 125 करोड़ रूपये का ऋण वितरण किया गया है। इनमें से मात्र 26 करोड़ रूपये की वसूली की गई है। इस पर नाराजगी प्रकट करते हुए मंत्री ने लाभार्थी चयन प्रक्रिया की जांच करने का निर्देश सचिव को दिया। उन्होंने कहा यदि ऋण वसूली नहीं बढ़ाई जाती है तो सम्बन्धित अधिकारियों की जिम्मेदारी निर्धारित की जायेगी। बैठक में प्रबन्ध निदेशक वी.षणमुगम सहित जनपद स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY